टॉप न्यूज़

विद्यार्थियों में असमझ की स्थिति : स्कूलों में 22 जनवरी को हो पूरे दिन का अवकाश, अभिभावक संघ ने की मांग

संयुक्त अभिभावक संघ ने कहा " अभिभावकों, विद्यार्थियों और शिक्षकों में अधरझूल की स्थिति"

जयपुर (24 समाचार)। अयोध्या में भगवान श्री राम नवमंदिर और प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव चल रहा है। 22 जनवरी को होने वाली प्राण प्रतिष्ठा को लेकर केंद्र सरकार ने देशभर में आधे दिन का अवकाश घोषित किया है, यह अवकाश दोपहर 2 बजे तक होगा जिसको लेकर संयुक्त अभिभावक संघ ने केंद्र सरकार सहित राजस्थान सरकार से स्कूलों में पूरे दिन का अवकाश घोषित करने की मांग की है। इसका प्रमुख कारण आधे दिन का अवकाश है क्योंकि अभी शीतकालीन सत्र चल रहा है जिसके चलते प्रदेशभर में कई सरकारी और निजी स्कूल सुबह 9 बजे से 3 बजे तक संचालित हो रहे है और कई स्कूल डबल शिफ्ट में चल रहे है ऐसी स्थिति को देख ना केवल विधार्थी बल्कि अभिभावक और शिक्षक भी असमझ की स्थिति में आ गए है।

संयुक्त अभिभावक संघ प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक जैन बिट्टू ने कहा की ” केंद्र सरकार और राजस्थान सरकार को इस असमझ की स्थिति को देखते हुए स्कूलों में पूरे दिन का अवकाश घोषित करना चाहिए जिससे अभिभावक, शिक्षक और विधार्थी अधरझूल की स्थिति से बाहर निकल सके। सरकार के इस निर्णय से प्रदेश के लगभग 70 हजार से अधिक स्कूल संचालक और स्कूलों में पढ़ रहे 2 करोड़ से अधिक अभिभावक असमझ की स्थिति में आ गए है। अगर सरकार पूरे दिन का अवकाश घोषित नही करती है तो स्कूलों में आधे दिन का अवकाश के आदेश को वापस लेना चाहिए जिससे सभी के समक्ष स्थिति स्पष्ट बनी रह सके।

 

जैन ने कहा की सर्दियों के मौसम में हर साल स्कूलों का समय परिवर्तन होता है, सरकार को इस विषय पर अपना ध्यान आकर्षित करना चाहिए और स्थिति को देखकर अवकाश के आदेश जारी करने चाहिए। क्योंकि अधिकतर बच्चों को उनके अभिभावक स्कूल छोड़ते है, अब 2 बजे तक आधे दिन के अवकाश के चलते दोपहर में अधिकतर अभिभावक बच्चों को छोड़ने के लिए उपलब्ध नही रह पाएंगे, साथ ही सरकार को यह भी स्पष्ट करना चाहिए जो सरकारी स्कूल 3 बजे तक संचालित होते है वहां अगर 2 बजे तक अवकाश रहेगा तो क्या विधार्थी केवल 1 घंटे के लिए स्कूल आयेगे उसमें वह केसे पढ़ाई कर पाएंगे क्योंकि 1 घंटे में आधा से ज्यादा समय स्कूल प्रेयर, स्टेंडेंस इत्यादि में ही पूरा हो जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×