राज्य

रोडवेज में राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग की उपाध्यक्ष ने ली बैठक

सफाई कर्मचारियों के सामाजिक, आर्थिक और शैक्षणिक उत्थान को लेकर हुआ मंथन

जयपुर, (24 समाचार)। राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग की उपाध्यक्षा अंजना पंवार ने कहा कि समाज की अंतिम पंक्ति के लोगों को समाज की मुख्य धारा से जोड़कर उनके जीवन स्तर में सुधार बेहद आवश्यक है। उन्होंने सफाई कर्मचारियों तथा उनके आश्रितों के सामाजिक, आर्थिक एवं शैक्षणिक जीवन स्तर सुधारने और उनके पुर्नावास के लिए स्वरोजगार योजना की समीक्षा की।

पंवार बुधवार को रोडवेज मुख्यालय पर सफाई कर्मचारियों के संबंध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रही थी। उन्होंने कर्मचारी व अधिकारियों को एक दूसरे के पूरक बताते हुए कर्मचारियों के सामाजिक व आर्थिक विकास के लिये मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने सफाई कर्मचारियों से वार्ता कर उन्हें मिल रहे वेतन, भत्ते और अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली तथा सफाई कर्मचारियों के लम्बित अनुकम्पा नियुक्ति, पेंशन एवं अन्य मामलों को प्राथमिकता से निस्तारण हेतु निर्देश प्रदान किये।

राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी आयोग की उपाध्यक्ष ने रोडवेज में सफाई कर्मचारियों की नियमित भर्तियों एवं सफाई कर्मचारी की मौत के बाद आश्रित को बिना शर्त और शैक्षणिक योग्यता की बाध्यता के अनुकम्पा नियुक्ति देने की सिफारिश की। उन्होंने बैठक में संवेदको को सफाई कर्मचारी के लिये नियमित स्वास्थ्य जांच कैम्प लगवाने, कर्मचारियों को मौसम के अनरूप यूनिफार्म, मास्क और साफ-सफाई से सम्बन्धित उपकरण, अद्तन सूचनाओं सहित परिचय पत्र उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए।

बैठक में रोडवेज के प्रबन्ध निदेशक नथमल डिडेल ने उपाध्यक्ष महोदया को रोडवेज में सफाई कर्मचारियों के स्थिति एवं उनके संरक्षण और उत्थान के लिए किये जा रहे कार्यो और राज्य सरकार की योजनाओं से अवगत करवाया।

सिन्धी कैम्प बस स्टैण्ड का किया निरीक्षण

पंवार ने निगम के अधिकारियों के साथ केन्द्रीय बस स्टैण्ड सिन्धीकैम्प, जयपुर का निरीक्षण कर वहां मौजूद सफाई कर्मचारियों से संवाद कर उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी ली। उन्होने ठेकेदारों को नियमित रूप से कर्मचारियों के खाते में ईएसआई, पीएफ फंड जमा करवाने, पहचान पत्र जारी करने, सुलभ शौचालयों की साफ सफाई एवं ढक्कनयुक्त कचरा-पात्र सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
इस अवसर पर निगम की कार्यकारी निदेशक (प्रशासन) अनीता मीना, कर्मचारी संघो से जुड़े पदाधिकारी सफाई कर्मचारियों के संवेदक और बड़ी संख्या में निगम और आगारों के सफाई कर्मचारी मौजूद रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×