Business

राजस्थान के 1,000 छोटे उद्यमियों को अपने साथ जोड़ने की सिंपल की कोशिश

जयपुर, (24 समाचार)। भारत के अग्रणी चेकआउट नेटवर्क, सिंपल ने आज, अगले 2-3 साल में अपने फुल-स्टैक चेकआउट नेटवर्क पर राजस्थान के डायरेक्ट-टू-कस्टमर (डी2सी) ब्रांड्स सहित 1,000 से अधिक मर्चेंट्स को शामिल करने की योजना की घोषणा की। इस रणनीतिक कदम का उद्देश्य ऑनलाइन कन्वर्ज़न बढ़ाकर और ऑर्डर रिटर्न कम कर राज्य के तेजी से विस्तृत होते स्टार्ट-अप परितंत्र में हज़ारों मर्चेंट्स को सशक्त बनाना है।

राजस्थान, सबसे तेज़ी से बढ़ते डी2सी ब्रांड्स में से कुछ के केंद्र के तौर पर मशहूर है। यहां उभरते उद्यमों को सशक्त बनाने वाली विभिन्न पहलें शुरू की गई हैं जिससे नवोन्मेष और उद्यमिता के लिए एक अनुकूल परितंत्र (ईको सिस्टम) तैयार हुआ है। सिंपल का लक्ष्य है, अपने अत्याधुनिक चेकआउट नेटवर्क के ज़रिये इन व्यापारियों को सशक्त बनाना, ट्रांज़ैक्शन फेलियर (लेन-देन की विफलता) को दूर करना और कार्ट अबैंडनमेंट (कार्ट छोड़ने की प्रक्रिया)  को कम करना। सुपर किक्स, फैन्स आर्मी और पीआर लेबल जैसे राजस्थान के मर्चेंट्स, ग्राहकों के अनुभव को बेहतर बनाने और ऑर्डर रिटर्न को कम करने के लिए सिंपल के चेकआउट नेटवर्क पर भरोसा करते हैं। सिंपल का लक्ष्य है, अगले कुछ साल में राजस्थान में परिधान और जूते, किराना और गॉर्मेट, व्यक्तिगत देखभाल (पर्सनल केयर) और स्वास्थ्य देखभाल (हेल्थकेयर) जैसे क्षेत्रों में अपनी उपस्थिति का विस्तार करना।

सिंपल के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी, नित्या शर्मा ने इस घटनाक्रम पर अपनी टिप्पणी में कहा, “राज्य की उद्यमशीलता की भावना को बढ़ावा देने वाली ‘आईस्टार्ट राजस्थान’ और ‘स्टार्टअप राजस्थान’ जैसी अनुकूल सरकारी नीतियों के मद्देनज़र राजस्थान में उद्यमियों की संख्या में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज हो रही है। छोटे व्यवसाय खुद को ऑनलाइन स्थापित कर रहे हैं। एक संगठन के रूप में, सिंपल, ऑनलाइन कारोबार शुरू करने वाले छोटे व्यवसायों को सशक्त बनाने के लिए प्रतिबद्ध है और ऐसा हमारे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आधारित प्रौद्योगिकी समाधानों के ज़रिये किया जाएगा। हमें राजस्थान के मर्चेंट्स परितंत्र में अपार संभावनाएं दिखती हैं और इसलिए हमारा लक्ष्य है, अगले 2-3 सालों में लगभग 1,000 व्यापारियों को अपने साथ जोड़ना ताकि उनके व्यवसाय को बेहतर बनाने और घाटे को कम करने में मदद की जा सके।”

कंपनी ने आज गुलाबी शहर (जयपुर) में आयोजित एक प्रमुख समुदाय-नीत संस्थापक (कम्युनिटी लेड फाउंडर्स) कार्यक्रम, डी2सी अनलॉक्ड के 15वें चैप्टर के मौके पर और अधिक व्यापारियों को शामिल करने की अपनी योजना साझा की। इस आयोजन में जानकारी के आदान-प्रदान (नॉलेज शेयरिंग) और सहयोग के ज़रिये ब्रांड्स के निर्माण और विस्तार पर चर्चा हुई और साथ ही इसमें विभिन्न क्षेत्रों में काम करने वाले दर्जनों डी2सी ब्रांड्स की भागीदारी दर्ज की गई। इस कार्यक्रम में प्रमुख डी2सी ब्रांड्स के संस्थापकों की भागीदारी देखी गई, जिनमें मिनिमलिस्ट के सह-संस्थापक मोहित यादव, जयपुर रग्स के मालिक और निदेशक योगेश चौधरी, सायबेज़ के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अतुल जैन और सुपर किक्स की ईकॉमर्स प्रमुख, कशिश पारयानी शामिल रहे।

सिंपल के नेटवर्क से विभिन्न उद्यमों और डी2सी ब्रांड्स सहित 26,000 से अधिक मर्चेंट्स और देश भर के लाखों उपयोगकर्ता (यूज़र) जुड़े हैं और इसलिए यह प्लेटफॉर्म उन मर्चेंट्स और ग्राहकों के लिए पसंदीदा विकल्प है, जो कन्वर्ज़न में सुधार करना चाहते हैं और ऑनलाइन सहज चेकआउट अनुभव प्राप्त करना चाहते हैं।

ऑनलाइन शॉपिंग प्लेटफॉर्म के लिए उपभोक्ताओं की बढ़ती प्राथमिकता और सोशल मीडिया के बढ़ते प्रभाव के कारण भारत में डायरेक्ट-टू-कंज्यूमर (डी2सी) उद्योगों में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज हुई। रेडसीयर स्ट्रैटेजी कंसल्टेंट्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, आगामी त्योहारी मौसम की बिक्री के दौरान उम्मीद है कि लगभग 14 करोड़ ऑनलाइन खरीदार, कम से कम एक बार ऑनलाइन खरीदारी करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×