राज्य

राजस्थान हो रहा है छात्राओं पर अत्याचारों से शर्मशार, सरकार और प्रशासन बरत रहे है लापरवाही – संयुक्त अभिभावक संघ

जयपुर, (24 समाचार)। राजस्थान जहां एक तरफ पर्यटन को बढ़ावा देने पर जोर दिया जा रहा है वही दूसरी तरफ दूसरे राज्यों से आकर प्रदेश की शिक्षा नगरी कोटा शहर में आकर शिक्षा ले रही छात्राओं के साथ दरिंदगी के मामले भी लगातार बढ़ते जा रहे है छात्राओं के मामले केवल कोटा तक सीमित नहीं है बल्कि राजधानी जयपुर हो या अजमेर, जोधपुर, बीकानेर, भरतपुर, उदयपुर आदि शहरों से भी लगातार दरिंदगी के मामले देखने को मिले है। छात्राओं के साथ दरिंदगी के मामलों पर संयुक्त अभिभावक संघ ने कहा की ” राजस्थान छात्राओं पर हो रहे अत्याचारों से लगातार शर्मशार हो रहा है, उसके बावजूद सरकार और प्रशासन लगातार लापरवाही बरतकर छात्राओं के जख्मों पर नमक खिड़कने का काम कर रही है। ”

प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक जैन बिट्टू

प्रदेश प्रवक्ता अभिषेक जैन बिट्टू ने कहा की एक छात्रा जो हरियाणा से पढ़ने के लिए कोटा शहर आती है और उस छात्रा के साथ गैंग रेप जैसी घटना होती है तो यह राजस्थान को शर्मशार करने वाली घटना है, ठीक इसी प्रकार बीकानेर जिले के श्रीडूंगरगढ़ में भी एक नाबालिक छात्रा के साथ गैंगरेप की घटना हुई है। कोटा में हुए गैंगरेप पर जानकारी मिली है की पुलिस प्रशासन आरोपियों को बचाने में जुटी हुई है, अगर प्रशासन इस तरह से कार्यवाही कर रही है तो इससे साफ साबित होता है की पुलिस प्रशासन दबाव में आकर कार्य कर रही है जिसके पीछे कोई ना कोई पॉलिटिकल प्रेशर छुपा हुआ है। अगर सरकार और प्रशासन मिलकर ऐसे खिलवाड़ करेगे तो कैसे छात्राओं को न्याय मिलेगा और कैसे छात्राओं को सुरक्षा मिलेगी। जबकि प्रदेशभर की सड़को, स्कूलों और कोचिंग संस्थानों में छात्राओं के साथ अत्याचारों के घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही है और सरकार व प्रशासन हाथ पर हाथ धरे बैठकर आरोपियों को बचाने का कार्य कर रही है। छात्राओं, बालिकाओं की सुरक्षा की बात करने पर जिम्मेदार लोग मौन धारण कर अभिभावकों पर ही दोष मंढ देते है ऐसे में छात्राओं और बालिकाओं को सुरक्षा केसे मिले इसको लेकर प्रदेशभर का ही नही बल्कि देशभर के करोड़ों अभिभावक चिंतित है। जहां अभिभावक पहले ही स्कूलों और कोचिंग संस्थानों की मनमानियों का शिकार हो रहा है वही अब बच्चियों की सुरक्षा को लेकर सरकार और प्रशासन की मनमानियों का भी शिकार होना पड़ रहा है।

 

पश्चिम बंगाल में महिला सुरक्षा पर भाजपा कर रही है तांडव तो राजस्थान में सरकार में होते हुए चुप क्यों है भाजपा

अभिषेक जैन बिट्टू ने कहा की पश्चिम बंगाल में महिलाओं, बालिकाओं और छात्राओं की सुरक्षा की मांग को लेकर भाजपा सड़कों पर तांडव कर रही, वहां हर रोज रेलियां निकाल रही है विरोध प्रदर्शन किए जा रहे है किंतु राजस्थान में भाजपा स्वयं सत्ता में है यहां महिला, बालिका, छात्राओं की सुरक्षा के सवाल पर मौन क्यों धारण किए हुए बैठी है। भाजपा को अगर महिलाओ और बालिकाओं की इतनी ही चिंता है तो वह हमदर्दी केवल पश्चिम बंगाल में ही क्यों दिखा रही है राजस्थान ने इनके प्रति अपनी हमदर्दी क्यों नही दिखा रही है। क्योंकि बंगाल में भाजपा विपक्ष में है इसलिए सवाल कर रही है किंतु राजस्थान में जब सत्ता है तो जवाब क्यों नही दे रही है, जबकि राजस्थान में प्रतिदिन महिला और बालिकाओं के साथ अत्याचार के कई मामले सामने आते है उसके बावजूद वह अपनी जिम्मेदारियों से क्यों भाग रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×