Uncategorizedराज्य

प्रदेश में सभी सरकारी इमारतों में पीएनजी और सीएनजी लाने के प्रावधान किये जाएं – मुख्य सचिव

जयपुर, 10 अगस्त।  मुख्य सचिव उषा शर्मा ने गुरूवार को शासन सचिवालय में प्राकृतिक गैस विनियामक बोर्ड (PNGRB) के साथ आयोजित बैठक में प्रदेश में सीएनजी और घरेलू पीएनजी नेटवर्क के समयबद्ध क्रियान्वयन के लिए महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की प्राथमिकता है कि प्रदेश के सभी जिलों में पाइप लाइन से घरेलू गैस उपलब्ध करवाने के लिए नेटवर्क का विकास समयबद्ध तरीके से पूरा हो। उन्होंने इस कार्य के लिए बोर्ड के समक्ष आ रही समस्याओं के बारे में जानकारी ली और उन्हें भरोसा दिलाया कि सभी अवरोधों को दूर करने के हरसंभव प्रयास किये जाएंगे।  मुख्य सचिव ने बोर्ड के प्रतिनिधियों से प्रदेश के सभी सरकारी घर, सरकारी कार्यालय, सरकारी कॉलोनी तथा सरकारी अस्पतालों व होटलो में पीएनजी और सीएनजी लाने के प्रावधान करने के लिए भी कहा।
शर्मा ने कहा कि नेचुरल गैस का उपयोग कोयले से अधिक स्वच्छ है। प्रदेश में कम्प्रेस्ड नेचुरल गैस (CNG ) तथा पाइप्ड नेचुरल गैस (PNG ) के अधिकतम उपयोग के लिए सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क्स के लिए बुनियादी ढ़ांचा विकसित करने का काम शीघ्र पूरा किया जाना चाहिये। उन्होंने प्रदेश में सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क्स के विकास को गति देने के लिए जिलों में बनाई गई समितियों की संबंधित जिला कलक्टर द्वारा नियमित बैठक कर समीक्षा करने के लिए भी कहा।
बैठक में पीएनजीआरबी चेयरमैन अनिल कुमार जैन, खान एवं भूविज्ञान विभाग के निदेशक संदेश नायक तथा पीएनजीआरबी के सदस्य मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×