राजनीतिराज्य
Trending

पालनहार योजना भाजपा सरकार की देन:- डॉ. अरुण चतुर्वेदी

जयपुर (24 समाचार)। भाजपा के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अरुण चतुर्वेदी ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर भाजपा सरकार द्वारा पूर्व में राज्य को दी गई योजनाओं के नाम पर झूठी वाह-वाही बटोरने का आरोप लगाते हुए कहा है राज्य सरकार ने मानवीयता को ताक में रख कर महंगाई राहत योजना की आड़ में आम जन को तथाकथित राहत शिविरों में धक्का खाने को मजबूर कर दिया। भाजपा नेता डॉ. अरुण चतुर्वेदी ने कहा कि मुख्यमंत्री रोजाना सुबह आम जन को एक झूठ परोसते है और उसी झूठ को बेचने का काम कर रहे है। वर्ष 2003 से 2008 के दौरान जब राज्य में भाजपा की सरकार थी तब देश में पहली बार राजस्थान में पालनहार योजना की शुरुआत की गई, जिसकी देश भर में प्रशंसा हुई और कई राज्य सरकारों ने भी इस योजना को अपनाया।

डॉ. चतुर्वेदी ने पेंशन योजना की बात करते हुए कहा कि भाजपा के शासनकाल में राजस्थान में विभिन्न समाजिक योजनाओं में लगभग 94 लाख लोग लाभान्वित हो रहे थे कांग्रेस सरकार ने इस संख्या को घटाकर 41 लाख पर लाकर रख दिया। यदि इन योजनाओं का लाभ ले रहे लोगों का सत्यापन नही हुआ था तो सरकार की जिम्मेदारी बनती है की तारीख आगे बढ़ाते। लोगों को लाभ से वंचित कर राज्य की कांग्रेस सरकार ने आपराधिक कृत्य किया है। जबकि भाजपा राज में किसी भी लाभान्वित की पेंशन राशि रोकी नही गई बल्कि पेंशन राशि प्रार्थी के बैंक खाते में स्वतः जमा हो जाती थी। वहीं कांग्रेस राज में वृद्ध, असहाय और विधवा महिलाओं को सरकारी सहायता पाने के लिए तथाकथित शिविरो में धक्के खाने पड़ रहे हे।

डॉ. चतुर्वेदी का कहना है कि 750 रूपए प्रतिमाह पेंशन पा रहे लाभान्वितों की संख्या घटाकर राशि में मात्र 250 रूपए की बढ़ोतरी कर लाखों लोगों के साथ अन्याय किया है।

उन्होंने कहा कि गहलोत सरकार केवल वोटों के लिए झूठे आंकड़े पेश कर जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। गहलोत सरकार लाभ के नाम पर आमजन को पंजरी परोस रही है। राज्य सरकार ने सम्पूर्ण मानवता त्याग कर पेंशन राशि पाने के लिए लोगों को भारी गर्मी में राहत शिविरों में धक्के खाने को मजबूर कर दिया। 45 डिग्री तापमान में गरीब, असहाय, वृद्ध, दिव्यांग और विधवा महिलाएं राहत शिविरों में परेशान हो रहे है। पालनहार योजना में लाभ ले रही महिलाएं अपने छोटे ,छोटे बच्चों को लेकर उनके लालन-पालन के लिए राहत कैंप में परेशान होने को विवश है। डॉ. चतुर्वेदी ने कहा है कि काग्रेस राज में सरकारी योजनाओं का लाभ उसी को मिलेगा जो कैंप में जाकर पहले नाक रगड़ेगा ओर फिर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की फोटो वाला कार्ड लेकर घूमेगा, वही लाभ का हकदार होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×