टॉप न्यूज़

दक्षिण अफ्रीकी टूरिज्म के शीर्ष तीन बाजारों में से एक के तौर पर भारत ने अपनी स्थिति मजबूत की

जयपुर से दक्षिण अफ्रीका घूमने आने वाले लोगों की संख्‍या में साल-दर साल 26% की बढ़ोतरी

जयपुर, (24 समाचार) : दुनिया में तेजी से बढ़ते हुए आउटबाउंड ट्रैवल बाजारों में एक, भारत पर नजर रखते हुए दक्षिण अफ्रीकी टूरिज्म ने अपने 20वें सालाना रोडशो का पहला चैप्‍टर जयपुर के होटल ललित में पूरा किया। भारत के दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों में अपना विस्तार करने के प्रयास में दक्षिण अफ्रीका टूरिज्म बोर्ड ने साउथ अफ्रीका घूमने के लिए भारतीयों को आकर्षित करने के लिए पिंक सिटी, जयपुर में रोड शो से अपने अभियान की शुरुआत की। यह रोड शो भारत के अलग-अलग शहरों में 16 फरवरी 2024 तक आयोजित किया जाएगा। दिल्ली में यह रोड शो 13 फरवरी, अहमदाबाद में 14 फरवरी, बेंगलुरु में 15 फरवरी को होगा। 16 फरवरी को मुंबई में इस रोड शो का समापन होगा।

दक्षिण अफ्रीकी पर्यटन में एमईआईएसईए की हब हेड मिस नेलिसवा नकानी के नेतृत्व में 11 फरवरी को इस रोड शो का उद्घाटन किया गया। 11 फरवरी की शाम को रेनबो नेशन, दक्षिण अफ्रीका के पर्यटन स्थलों, भाषाओं और संस्कृति का नजारा पेश किया गया। इसके साथ ही दक्षिण अफ्रीका के शेफ द्वारा वहां की खान-पान की झलक देते हुए लजीज और स्वादिष्ट व्यंजनों से लोगों को रूबरू कराया गया। दूसरे शहरों में रोड शो के दौरान मेहमानों को इसी तरह दक्षिण अफ्रीका के आकर्षक पर्यटन स्थलों और लजीज व्यंजनों से परिचित कराने और शानदार अनुभव प्रदान करने के लिए दक्षिण अफ्रीकी पर्यटन बोर्ड ने अपने होटल पार्टनर्स से साझेदारी की है। इस इवेंट में एक इंडस्ट्री पैनल ने भारत के ट्रैवल और टूरिज्म सेक्टर के साथ उभरते ट्रेंड्स, अवसरों और चुनौतियों पर विचार-विमर्श किया। इस पैनल में शामिल इंडस्ट्री के विशेषज्ञों में ट्रैवेल एजेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया की प्रेसिडेंट ज्योति मलाल, थॉमस कुक (इंडिया) में रिलेशनशिप, कम्युनिकेशंस और सर्विस क्वॉलिटी की सीनियर वाइस प्रेसिडेंट सुजैन परेरा, गिल इंडिया कॉन्सेप्ट और टुडेस ट्रैवलर के निदेशक कमल गिल, एम्बोंबेला एक्सपीरियंस टूर्स एंड सफारी के निदेशक नेट्टू मलूका, डिफरेंट डोर्स के को-फाउंडर और साची एंड साची प्रोपेगेट के पूर्व सीओओ चार्ल्स विक्टर शामिल थे ।

इस दो दिवसीय सम्मेलन में सामूहिक रूप से जयपुर और 40 अन्य भारतीय शहरों के 250 से ज्यादा भारतीय ट्रैवल ट्रेड प्रतिनिधियों का स्वागत किया। इस सम्मेलन में भारतीय प्रतिनिधियों को 42 मेजबान और दक्षिण अफ्रीका के प्रमुख एक्जिबिटर्स से मिलने और बातचीत करने का मौका मिला। इससे भारतीय ट्रैवल ट्रेड के प्रतिनिधियों को उनके ऑफर देखने का मौका मिला। उन्होंने भविष्य में संभावित साझेदारी के क्षेत्रों की पहचान की। इस रोड शो में 14 एसएमएमई भी अपने सहयोगियों के साथ शामिल हुए, जिन्होंने इस रोड शो में 40%नए प्रॉडक्ट्स का प्रदर्शन किया, जिसमें तरह-तरह के किफायती प्रॉडक्ट्स शामिल थे। अलग-अलग शहरों में होने वाले रोऱोड शो एक महत्वपूर्ण प्लेटफॉर्म हैं। इससे दक्षिण अफ्रीकी और भारतीय, दोनों ट्रेड पार्टनर्स को अपने महत्वपूर्ण प्रॉडक्ट्स को पेश करने का मौका मिला। इन अवसरों से न सिर्फ ब्रैंड को आगे बढ़ाने में मदद मिली, बल्कि दक्षिण अफ्रीका के महत्वपूर्ण बाजारों के लिए आपसी साझेदारी का भी मौका मिला है।

 

दक्षिण अफ्रीकी पर्यटन में मध्यपूर्व भारत और दक्षिण पूर्व एशिया की हब हेड नेलिसवा नकानी ने कहा, “अब जब हम भारत में अपनी मौजूदगी को बढ़ा रहे हैं और नए क्षेत्रों में प्रवेश कर रहे हैं, दक्षिण अफ्रीकी पर्यटन भारत में अपने दो दशक के निवेश का जश्‍न मना रहा है। 2023 हमारे लिए बेहद सफल वर्षों में से एक रहा है। हम भारतीय पर्यटकों और कारोबारियों से लगातार मिले प्यार और समर्थन देने के लिए बेहद आभारी हैं। दोनों देश आपस में गहराई से एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। अपने इतिहास और समृद्ध संस्कृति को साझा करने और लंबी भागीदारी से यह गहरा संबंध विकसित हुआ है।’’

उन्होंने आगे कहा, “पिछले कुछ सालों से भारत में विदेश घूमने वाले टूरिस्ट्स की संख्या में उल्लेखनीय बढ़ोतरी हुई है। विदेश घूमने वाले पर्यटकों में भारतीयों की संख्या ने एशिया के बाकी देशों और विश्व के कई देशों के टूरिस्ट्स को पीछे छोड़ दिया है। भारत से दक्षिण अफ्रीका घूमने जाने वाले पर्यटकों में 43% का विकास हुआ है। दक्षिण अफ्रीका के लिए भारत की टॉप 3 टूरिज्म मार्केट्स में अपनी महत्वपूर्ण स्थिति बरकरार रही है। हमारा 20वां सालाना इंडिया रोडशो भारतीय टूरिस्ट्स के प्रति हमारी अटूट प्रतिबद्धता का प्रमाण है।’’

जयपुर दूसरे दर्जे के भारतीय शहरों में तेजी से आगे बढ़ते हुए मार्केट्स में एक के रूप में उभरा। यहां से दक्षिण अफ्रीका जाने वाले यात्रियों में साल दर साल 26% की बढ़ोतरी हुई है। कुल मिलाकर 2023 में भारत से दक्षिण अफ्रीका घूमने जाने वाले टूरिस्ट्स में 43% की अविश्वसनीय बढ़ोतरी हुई। भारत में पर्यटन की असीमित संभावनाओं का लाभ उठाते हुए दक्षिण अफ्रीकी टूरिज्म बोर्ड पहुंच में सुधार करने और कनेक्टिवटी बढ़ाने के लिए लगातार कोशिश कर रहा है। भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच डायरेक्ट रूट्स के लिए बातचीत को प्रोत्साहित करने के लिए भी बोर्ड अपनी कोशिशें जारी रखेगा।

भारतीय उपभोक्ताओं को प्रभावित करने वाले हस्तियों से दक्षिण अफ्रीकी बोर्ड भारत में साउथ अफ्रीका के टूरिस्ट्स स्पॉट्स को प्रमोट कर रहा है। इसके साथ ही वह उपभोक्ताओं को दक्षिण अफ्रीका के विभिन्न शहरों में घूमने के लिए आकर्षित कर रहा है। इस समय पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए दक्षिण अफ्रीकी टूरिज्म बोर्ड “मोर एंड मोर” ब्रैंड कैंपेन भी चला रहा है। टूरिज्म बोर्ड भारतीय कॉरपोरेट्स से जुड़ने और उनकी बिजनेस और एमआईसीई यात्रा की जरूरतों को पूरा करने के लिए अपने मशहूर कॉरपोरेट थिंक टैंक की मेजबानी के लिए भी तैयार है। मौजूदा समय में भारत से साउथ अफ्रीका के लिए स्टॉप ओवर फ्लाइट्स हैं। इसमें अमीरात, कतर एयरवेज, इथोपियन एयरलाइंस, केन्या एयरवेज और एयर सेशेल्स शामिल है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×